समाजसेवा त्याग कि भावना से कि जाती हे शिवप्रतापसिह चोहान

समाजसेवा त्याग कि भावना से कि जाती हे  शिवप्रतापसिह चोहान
समाजसेवा त्याग कि भावना से कि जाती हे -शिवप्रतापसिह चोहान
भानपुरा।किसी भी समाज व सगंठन मे पद केवल एक माध्यम हे समाज सेवा तो त्याग कि भावना से कि जाती हे उक्त विचार राजपुत करणी सेना मुल के प्रदेश  अध्यक्ष शिव प्रतापसिहं चोहान ने भानपुरा मे  दो दिवसीय चितंन शिविर के समापन समारोह मे व्यक्त किए,चोहान ने कहा कि राजपुतो का क्रत्यव हे कि वह सुबह उठते ही सुर्य देवता को प्रणाम करे ओर अपने दिन कि शुरुआत करे अपने धर्म के प्रति जाग्रत रहे जो शक्ती हमारे भगवान मे हे वह किसी मे नही हे जो व्यक्ती अपने धर्म का नही वह जात का नही ओर जो जात का नही वह खानदान का नही,प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि समाज मे नेतागिरी न करे समाज के सगंठन को अपने रचनात्मक कार्यो से मजबुत करे आपने कहा कि सगंठन त्याग कि भावना से चलता हे आज सगठंन कि शक्ती को पहचाने अगर हमको सक्षम बनना हे तो सगंठन को मजबुत बनाना होगा व्यक्ती को पहचान उसके काम से मिलती हे पद से नही पद केवल माध्यम हे आपने बताया कि दो दिवसीय सामाजिकं चितंन शिविर सगंठन कि कार्यकारणी विस्तार साथ ही आगामी 25 दिसम्बर को भोपाल मे होने वाले प्रदेश स्तरीय राजपुत करणी सेना मुल के सम्मेलन मे सामाजिक विषयो पर चर्चा होगी आपने कहा कि लोकतात्रिंक व्यवस्था मे समाज का पुरा प्रतिनिधित्व हो अनारक्षित सीटो पर केवल सामान्य वर्ग के उम्मीदवार ही खडा हो ओर उन्है मोका मिले इस हेतु करणी सेना  एक महाअभियान चलायेगी ओर इसका सदेशं सरकारो को दिया जावेगा शिव प्रतापसिह चोहान ने कहा कि राजपुत करणी सेना 36 कोमो के लिए हमेशा तन,मन,धन से लडने को तैयार हे हम हमेशा सही कासमर्थन करते हे न्याय के लिए लडते हे ओर अन्याय के खिलाफ खडे हे आपने कहा कि बिना जाचं किए एफ आई आर दर्ज होना गलत हे हम इसका विरोध करते हे दोषी को सजा मिले पर निर्दोष फसं‌ न जाए  राजपुत करणी सेना का मुल उदे्शय हे देश ,धर्म,व सस्क्रतीं के खिलाफ जो भी जाएगा हम उसके खिलाफ हे,आपने देश मे जनसख्या नियत्रणं कानुन तुरन्त लागू करने कि भी मागं कि ,इस दो दिवसीय सम्मेलन जो मन्दसोर जिला ईकाई के तत्वाधान मे 30 व 31 जुलाई को हुआ इसमे पुरे प्रदेश से 500 से भी अधिक प्रतिनिधी शामिल हुए सम्मेलन मे जितेन्द्र सिह प्रदेश प्रवक्ता,भवरंसिह चन्द्रावत प्रदेश उपाध्यक्ष,सगठंन के वरिष्ठ सदस्य हेमतंसिह,मन्दसोर जिलाप्रभारी,मन्दसोरजिला  अध्यक्ष दानवीरसिह ,सहित सगठंन के अनेक पदाधिकारी व वरिष्ठ जन उपस्तिथ थे समापन पर सभी को स्म्रति चिन्ह भेट किया गया,व समाटन पर एक विशाल वाहन रेली प्रेम ग्रन्थं गार्डन से निकली जिसका स्थान ,स्थान पर स्वागत हुआ वाहन रेली का समापन गाधीसागरं न 8 पर हुआ।सभी राजपुत सगंठन के सदस्य केसरिया पगडीं धारण किए हुए थे, सभी का आभार इस सम्मेलन के सुत्रधार प्रदेश उपाध्यक्ष भवरंसिह चन्द्रावत व जिला अध्यक्ष दानवीरसिह,व प्रभारी अवधेश प्रताप सिहं  ने माना।